महादीपीय शेल्फ (अंगरेजी: Continental shelf) महादीप सभ के किनारे पर के अइसन हिस्सा होला जे समुंद्र में बूड़ल होला आ ई परंपरागत रूप से महादीपे के हिस्सा मानल जाला, ढाल कम होला आ एकरे ऊपर समुंद्र के गहिराई जादे ना होला; इनहन के आगे महादीपीय ढाल (स्लोप) होला जे समुंद्र के भीतर महादीप के किनारा चाहे कगार नियर होला आ तेज ढाल वाला होला।

महाद्वीपीय शेल्फ
Elevation.jpg

महादीपीय शेल्फ (शेल्फ माने आलमारी चाहे ताखा के सपाट हिस्सा जेह पर सामान रखल जाला) के महाद्वीपीय मग्नतट भी कहल जाला जे एकरे एही अरथ के बतावे ला कि ई हिस्सा महादीप के अइसन किनारा हवे जे समुंद्र में बूड़ल बा। बतावल जाला कि पृथ्वी के भूबिग्यानी इतिहास में आइस एज के दौरान, जब पानी के काफी सारा हिस्सा बरफ के रूप में पृथ्वी के ऊपर ठोस रूप में जमल रहे आ समुंद्र के लेबल नीचे रहे, ई सगरी शेल्फ सभ जमीनी हिस्सा के रूप में उतराइल रहलें। बाद में बरफ के पघिले आ समुंद्र के पानी में बढ़त के कारण ई हिस्सा समुंद्र में डूब गइल।

इनहन के चौड़ाई कौनों निश्चित ना होला आ किनारे से समुंद्र के भीतर ले इनहन के बिस्तार अलग-अलग जगह अलग पावल जाला। आमतौर पर जवना महादीपीय किनारे के साथे परबत होखे या भ्रंश होखे ओहिजा ई बहुत पातर होलें जबकि जवना किनारे पर मैदानी हिस्सा होला उहाँ ई ढेर चाकर होखे लें।

संदर्भसंपादन