"जॉन कीट्स" की अवतरण में अंतर

छो
I REPLACED A WORD 'NIDHAN' BY 'MUALA'.
छो (सुधार)
छो (I REPLACED A WORD 'NIDHAN' BY 'MUALA'.)
'''जॉन कीट्स''' (John Keats; {{IPAc-en|k|iː|t|s}}; 31 अक्टूबर 1795 – 23 फरवरी 1821) एगो अंगरेज कवी रहलें। रोमांटिक कबिता के प्रमुख कवी लोग में इनके नाँव गिनावल जाला। ई एह साहित्यिक दौर के दूसरा पीढ़ी के कवी रहलें जेह में [[लार्ड बायरन]] आ [[पर्सी बिश शेली]] के साथ मिलल। इनके बहुत कमे उमिर में, 1821 में बस पचीसे साल में निधन भ गइल आ इनके निधन से खाली चार साल पहिले इनके कबिता सभ के संग्रह छपल, इनके पर्याप्त परसिद्धि मिलल।<ref name="Neill418">O'Neill and Mahoney (1988), 418</ref>
 
इनकर कबिता सभ के इनका जिनगी में भले समालोचक लोग के धियान ना मिलल, इनके निधनमुआला के कुछे समय बाद इनकर महत्व बढ़ल आ 19वीं सदी आवत-आवत ई सगरी अंगरेजी कवी लोग में से सभसे प्रिय अंगरेज कवी लोग में से एक बन गइलें। इनके बाद के कवी आ लेखक सभ पर इनकर ब्यापक परभाव पड़ल। जॉन लुई बोर्जेस के कहनाम की कीट्स के साहित्य से पहिला परिचय उनके जिनगी के सभसे महत्व वाला साहित्यिक अनुभव रहल।<ref>Jorge Luis Borges (2000). ''This Craft of Verse''. Harvard University Press, 98–101</ref>
 
{{clear}}
1

संपादन