"गंगा मैया तोहें पियरी चढ़ैबो" की अवतरण में अंतर

कौनों संपादन सारांश नइखे
छो (सुधार)
टैग कुल: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
 
{{Infobox film
| name = गंगा मैया तोहें पियरी चढ़ैबो
| name =
| image = Ganga maiya Tohe Piyari Chadhaubo Poster.jpg
| image size =
| gross =
}}
'''''गंगा मइयामैया तोहें पियरी चढ़इबोंचढ़ैबो''''' सन् 1963 में रिलीज भइल एक ठो [[भोजपुरी सिनेमा|भोजपुरी फिलिम]] रहल जेकर डाइरेक्टर कुंदन कुमार आ प्रोड्यूसर बिश्वनाथ प्रसाद शाहाबादी रहलें। ई [[भोजपुरी]] भाषा में बनल सभसे पहिली फिलिम रहल आ एह में कुमकुम, अशीम कुमार आ नाज़िर हुसैन प्रमुख कलाकार रहल लोग। फिलिम से संगीत चित्रगुप्त के रहल आ गीत लिखे के काम शैलेंद्र कइलेन। गाना सभ के [[लता मंगेशकर]] आ [[मोहम्मद रफ़ी]] के आवाज मिलल।
 
फिलिम 22 फरवरी 1963 के, [[पटना]] के वीणा सिनेमा में रिलीज भइल। फिलिम के डाइरेक्ट कुंदन कुमार रहलें आ प्रोड्यूसर बिश्वनाथ प्रसाद शाहाबादी रहलें जे भारत के पहिला राष्ट्रपति [[राजेंद्र प्रसाद]] के चिन्हारू रहलें। फिलिम के सुरुआती बजट {{INR}}1,50,000 रहल आ अंत ले पहुँचत-पहुँचत {{INR}}5,00,000 पड़ल। राजेंद्र प्रसाद के एह फिलिम के रिलीज से पहिले एक ठो बिसेस स्क्रीनिंग में पटना के सदाक़त आश्रम में देखावल गइल।<ref>{{cite news |url=http://movies.ndtv.com/regional/first-bhojpuri-film-to-be-screened-during-bihar-divas-92406 | title=First Bhojpuri Film To Be Screened During Bihar Divas | publisher=NDTV/Indo-Asian News Service | date=17 मार्च 2011 | accessdate=3 फरवरी 2014 }}</ref><ref>{{cite news | url=http://www.indianexpress.com/news/such-a-long-journey/558114 | title=Such a long journey | first=Jaskiran |last=Kapoor | date=23 दिसंबर 2009 | newspaper=दि इंडियन एक्सप्रेस | accessdate=3 फरवरी 2014 }}</ref>
नामालूम प्रयोगकर्ता