मुख्य मेनू खोलीं

अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस (International Day of Non-Violence) हर साल 2 अक्टूबर के मनावल जाला। एह दिन महात्मा गाँधी के जनम दिन हवे आ ई भारत में गाँधी जयंती के रूप में मनावल जाला।

अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस
International Day of Non-Violence
मनावे वाला All UN Member States
समय 2 अक्टूबर
अगिली बेर एक्सप्रेशन खराबी: < आपरेटर जेकर उमेद ना रहल।
केतना बेर annual

इतिहाससंपादन

जनवरी 2004 में मुंबई में आयोजित एगो कार्यक्रम में ईरानी नोबल पुरस्कार बिजेता शीरीन इबादी के ई आइडिया पेरिस में अंतर्राष्ट्रीय बिद्यार्थी लोगन के हिंदी पढावे वाला एगो शिक्षक से मिलल। बाद में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ई आइडिया पसंद आइल आ एकरा खाती माहौल बने सुरू भइल।[1]

15 जून 2007 के यूनाइटेड नेशंस में एह बात के प्रस्ताव पास भइल कि गांधी जी के जनम दिन 2 अक्टूबर के अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस (इंटरनेशनल डे ऑफ नॉन-वायलेंस) के रूप में मनावल जाई।[2]

यूनाइटेड नेशंस के पोस्टल डिपार्टमेंट एगो इस्पेशल कैचेट (मोहर के रूप में लागे वाला चीन्हा)[3] भी बनावले बा जे 2 अक्टूबर से 31 ले हर चिट्ठी पत्री पर लगावे ला।

संदर्भसंपादन

  1. "Conference calls for declaring International day of non-violence".
  2. "UN declares 2 October, Gandhi's birthday, as International Day of Non-Violence". United Nations. 15 जून 2007. पहुँचतिथी 2 अक्टूबर 2014.
  3. Topical Philately Related to Mohandas K. Gandhi, gandhi.topicalphilately.com