गायकी भा गवनई में मनुष्य अपना गला के इस्तमाल से संगीत पैदा करे ला। क्रिया के गावल आ जवन शब्द समूह के गा के उच्चारण कइल जाला ऊ गीत कहाला। गायकी करे वाला, मने की गावे वाला ब्यक्ति के गायक/गायिका कहल जाला।

A person singing with Harmonium
भुबनेश्वर में 2011 में गायकी के एगो परफार्मेंस दे रहल जगजीत सिंह

संदर्भसंपादन