ब्लड प्रेशर

नस सभ पर खून के दाब

ब्लड प्रेशर (Blood pressure; अरथ: खून क दबाव) जेकरा बीपी भी कहल जाला, शरीर में खून के आवाजाही के दौरान खून ले जाए वाली नस सभ के देवाल पर पड़े वाला दबाव (प्रेशर) होला। शरीर में खून के आवाजाही दिल के धड़कन पर आधारित होला: दिल के मांसपेशी सभ जब सिकुड़ के खून के पूरा शरीर में पंप करे लीं तब नस पर दबाव बढ़ जाला; एकरे बिपरीत जब दिल के मांसपेशी सभ ढील होखे लीं पूरा शरीर से खून वापस दिल में लवटे ला, एह समय खून के दाब नस के देवाल पर सभसे कम होला। एही दुनों दाब के नाप ब्लड प्रेशर हवे।

Blood pressure
Medical diagnostics
पारा वाली नली आ प्रेशर वाली पट्टी से बनल यंत्र
पारा वाला स्फाइग्नोमैग्नोमीटर
MeSH D001795
MedlinePlus 007490
LOINC 35094-2

अलगा से अगर खास कौनों सूचना भा जानकारी ना दिहल होखे, ब्लड प्रेशर आमतौर पर बड़हन धमनी (साफ़ खून ले जाए वाली नस) सब में प्रेशर के नाप होला। एह तरीका के धमनी सभ में, ऊपर बतावल कारण अनुसार, दाब के दू गो नाप आवे ला - अधिकतम आ सभसे कम। इनहन के क्रम से सिस्टोलिक दाब (या सिस्टोल) आ डायस्टोलिक दाब (डायस्टोल) कहल जाला। नाप के इकाई मिलीमीटरपारा (mmHG) होला जे दाब के सभसे आम इकाई हवे, मने कि आसपास के हवा के दाब से (जेकरा के सुन्ना मान लिहल जाला) से केतना ढेर दाब खून के बा। नापे वाला यंत्र के स्फाइग्नोमैग्नोमीटर कहल जाला, एह में नली में पारा भरल होला आ पारा के ऊँचाई मिलीमीटर में नापल जाला। आमतौर पर एगो स्वस्थ-सेहतमंद आदमी के ब्लड प्रेशर 120/80 mmHG होला; मने की सिस्टोल 120 आ डायस्टोल 80 mmHG के बराबर।

ब्लड प्रेशर, आदमी के सेहत के कुछ सभसे महत्व के चीन्हा सभ में से एक हवे। अगर ब्लड प्रेशर सामान्य से ढेर होखे तब एह दसा के हाई बीपी (हाइपरटेंशन) आ अगर सामन्य से कम होखे तब लो बीपी (हाइपोटेंशन) कहल जाला।

संदर्भसंपादन