अवध इतिहासी रूप से मुग़ल काल आ ब्रिटिश राज के दौर में एगो इलाका रहे जे वर्तमान उत्तर प्रदेश आ प्रदेश संख्या 5 के कुछ हिस्सा सभ पर बिस्तार लिहले रहे; वर्तमान में ई उत्तर प्रदेश के अवधी भाषा बोलल जाए वाला जिला सभ के इलाका के कहल जाला आ उत्तर प्रदेश के बँटवारा के प्रस्ताव में एगो अलगा राज्य बनावे खाती प्रस्तावित बा। प्राचीन काल में एह क्षेत्र के काफी हिस्सा कोसल आ वत्स महाजनपद सभ के हिस्सा रहल, हालाँकि "अवध" नाँव के जिकिर मध्यकाल में 16वीं-सदी के बाद से मिले ला। एह इलाका के प्रशासन, मुगल राज के दौरान नवाब लोग के दिहल गइल आ अवध के ई नबाब लोग बाद में मुगल सत्ता के कमजोर होखे पर लगभग आजाद हो गइल रहे। अंगरेज लोग, एह इलाका के जीते के बाद यूनाइटेड प्रोविंस ऑफ आगरा एंड अवध (यूपी) बनावल जे आजादी के बाद वर्तमान उत्तर प्रदेश राज्य बनल। इतिहासी अवध क्षेत्र के जे हिस्सा वर्तमान में नेपाल देस में पड़े ला ऊ ओहिजा के प्रदेश संख्या 5 में बा आ नेपालगंज एह प्रदेश के राजधानी हवे।

अवध
इतिहासी क्षेत्र
प्रस्तावित राज्य
वर्तमान में अवध क्षेत्र मानल जाए वाला इलाका के लोकेशन
वर्तमान में अवध क्षेत्र मानल जाए वाला इलाका के लोकेशन
देस

 भारत

 नेपाल
राज्य उत्तर प्रदेशप्रदेश संख्या 5
मंडल लखनऊ मंडल,
फैजाबाद मंडल,
देवीपाटन मंडल,
कानपुर मंडल के कुछ भाग,
इलाहाबाद मंडल
नेपालगंज मंडल
भाषा अवधी भाषा
ऊँचाई 100 m (300 ft)

नबाब लोग के समय में, पहिले अवध के राजधानी फैजाबाद रहल। बाद में राजधानी लखनऊ के बनावल गइल जे वर्तमान में उत्तर प्रदेश के राजधानी बा।

संदर्भसंपादन