चाय एगो लोकप्रिय पेय पदार्थ ह। इ चाय के पौधवन के पत्तियन से बनेला।

चाय के पतई पानी में सिझावल जात बा

इतिहाससंपादन

सबसे पहिले सन् 1815 में कुछ अंग्रेज़ यात्रि सब के ध्यान असम में उगे वाली चाय की झाड़ियन पर गईल जेसे स्थानीय क़बाइली लोग एक प्रकार के पेय बनाके पीयत रहे लोग। भारत के गवर्नर जनरल लॉर्ड बैंटिक 1834में चाय के परंपरा भारत में शुरू करे आ उ के उत्पादन करे के संभावना तलाश करे खातिर एगो समिति के गठन कईलन। इ के बाद 1835 में असम में चाय के बाग़ लगावल गईल ।[1]

संदर्भसंपादन

  1. "चाय के खेती कब, कहाँ आ कइसे?". BBC News. 30 अप्रैल 2006.