नदी या नद्दी, जमीन के ढाल के अनुसार, प्राकृतिक रूप से, एगो निश्चित धारा की रूप में बहत पानी के कहल जाला जे आमतौर प कौनों दुसरा नदी में, झील में या समुंद्र में मिल जाले। कुछ जगह जहाँ बारिश बहुत कम होला आ जमीनभीतरी पानी के लेवल बहुत नीचे होला उहाँ नदी रेगिस्तान में धीरे-धीरे सूख के भी बिलीन हो जाली कुल। नदी के छोट रूप, जब नदी अपनी सुरुआती अवस्था में होले, नाला भा सरिता या जलधारा होला, हालाँकि एकर कौनों बहुत साफ पैमाना नइखे कि कब नदी कहल जाई आ कब नाला, आमतौर प ई लोकल पुकार नाँव के आधार बना के तय कइल जाला कि ओकरा के ओह इलाका के लोग का कहत बा।

two rivers flowing to ocean
भारत के दू गो नदी गोदावरी (ऊपर) आ कृष्णा (नीचे) के समुंद्र में मिले के उपग्रह से लिहल फोटो

बिस्व के सभसे लमहर नदी नील नदी हवे, सभसे ढेर पानी समुंद्र में पहुँचावे वाली नदी अमेजन नदी हवे आ सभसे ढेर बेसिन एरिया वाली नदी मिसिसिपी-मिसौरी नदी हवे। भारत के सभसे महत्वपूर्ण नदी गंगा नदी हवे आ एकरी आलावा सिंधु, ब्रह्मपुत्र, नर्मदा, गोदावरीकृष्णा नदी भारत के औरो दूसर प्रमुख नदी बाड़ी स।

संदर्भEdit